नाला सफाई के नाम पर कागजी खानापूर्ति फ़ेल, बारिश से सड़कें बनीं तलाब

देवरिया लाईव ■ मानसून की पहली बारिश ने देवरिया नगर पालिका को आइना दिखाया है। नाला सफाई के नाम पर कागजी खानापूर्ति ने शहरियों को संकट में डाल दिया। देर रात 12 बजे से शुरू हुई बारिश से शहर लेकर गांव तक पानी-पानी हो गया। शहर की कोई ऐसा सड़क व मोहल्ला नहीं नहीं था, जहां जलभराव नहीं हुआ है। दुकानों व घरों में पानी घुस गया। हालात यहां तक खराब हुए कि जिलाधिकारी अमित किशोर को दखल देना पड़ा। उनके निर्देश अपर जिलाधिकारी प्रशासन राकेश पटेल व उपजिलाधिकारी दिनेश मिश्र जेसीबी लेकर शहर में निकले और कई स्थानों पर जाम पड़े नाले का साफ कराया तब जाकर जलभराव से कुछ निजात मिली।

मूसलधार बारिश से लोगों को गर्मी से निजात मिली कितु जनजीवन पर इसका बुरा असर पड़ा। सरकारी कार्यालयों लोक निर्माण विभाग, कलेक्ट्रेट, दीवानी न्यायालय, जिला अस्पताल, बाढ़ खंड, स्टेडियम, पुलिस लाइन व आवासों में पानी भर गया। नाले ओवरफ्लो करने से हनुमान मंदिर रोड, सीसी रोड, राघवनगर रोड, जलकल रोड, पुलिस लाइन रोड, जिला अस्पताल रोड, कोतवाली रोड, कस्तूरबा गांधी कालेज रोड आदि सड़कें तालाब बन गई। कमर तक पानी से लोगों को गुजरना पड़ा। पानी खत्म होने के बाद लोगों को सिल्ट से जूझना पड़ा।

Leave a Reply