Breaking News
Home / India / Uttar Pradesh / कुंभ के ऐतिहासिक आयोजन से हताश हो चुके हैं अखिलेश – शलभ मणि त्रिपाठी

कुंभ के ऐतिहासिक आयोजन से हताश हो चुके हैं अखिलेश – शलभ मणि त्रिपाठी

देवरिया लाइव ■ बीजेपी के प्रदेश प्रवक्ता शलभ मणि त्रिपाठी ने अखिलेश यादव पर प्रहार करते हुए कहा है कि प्रयागराज में हुए ऐतिहासिक और यादगार कुंभ के आयोजन से हताश पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने आंदोलन की आड़ में पूरे उत्तर प्रदेश और खास तौर पर प्रयागराज को हिंसा की आग में झोंकने की साजिश करने की कोशिश की है, जिसे समय रहते प्रशासन की सूझबूझ से नाकाम कर दिया गया । पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की शह पर समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने ना सिर्फ सड़कों पर अराजकता का नंगा नाच किया, बल्कि आम लोगों और प्रशासनिक अधिकारियों के साथ भी अभद्रता की, इन घटनाओं के लिए सीधे तौर पर पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ही जिम्मेदार हैं । जिन्होंने विश्वविद्यालय प्रशासन के मना करने के बावजूद प्रयागराज पहुंचने का दबाव बनाया और उसके बाद अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओं को प्रदेशभर में हिंसा करने के लिए छोड़ दिया । पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी साधुवाद के पात्र हैं, जिन्होंने समाजवादी पार्टी की बदसलूकी बर्दाश्त करते हुए भी अपना धैर्य नहीं खोया और बेहतर कानून व्यवस्था कायम रखी है ।


 प्रदेश प्रवक्ता शलभ मणि त्रिपाठी ने कहा कि 2015 में जिन नियमों के तहत श्री योगी आदित्यनाथ जी को प्रयाग में विश्व विद्यालय के कार्यक्रम में जाने से रोक दिया गया था. ठीक उन्हीं नियमों के तहत प्रयाग में विश्वविद्यालय ने श्रीमान अखिलेश जी को भी कार्यक्रम की अनुमति नहीं दी थी. अखिलेश जी ने यह झूठ भी बोला कि वे विश्वविद्यालय के शपथ ग्रहण कार्यक्रम में जा रहे हैं. तब, जबकि सभी को पता है कि विश्वविद्यालय में शपथ ग्रहण का कार्यक्रम 6 अक्टूबर को ही हो चुका था. यही नहीं एक छात्र के निधन के चलते छात्र शोकाकुल थे और विश्वविद्यालय में किसी भी तरह के कार्यक्रम का विरोध कर रहे थे. इसी मुद्दे पर हो रहे विरोध प्रदर्शनों के चलते पिछले दिनों कैंपस में छात्रसंघ महामंत्री शिवम सिंह पर बमों से हमला भी हुआ था. इन्हीं विरोध प्रदर्शनों और घटनाओं के चलते विश्वविद्यालय प्रशासन ने कार्यक्रम की अनुमति नहीं दी थी. ऐसे में पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश जी को पद की गरिमा देखते हुए स्वयं प्रयागराज नहीं जाना चाहिए था. लेकिन, ऐतिहासिक कुंभ से हताश अखिलेश जी ने जानबूझकर प्रयागराज पहुंचकर वहां माहौल बिगाड़ने की कोशिश की और इसके बाद समाजवादी पार्टी कार्यकर्ताओं ने पूरे प्रदेश में बलवा कर अराजकता कायम करने की कोशिश की लेकिन हमारी सरकार ने सूझबूझ का परिचय देते हुए इन सारी साजिशों को विफल कर दिया ।

About ankita tiwari

Check Also

पांच पत्रकार बने सूचना आयुक्त, मान्यता समिति गठित

देवरिया लाइव ■ पिछले 24 घंटे से लखनऊ के पत्रकारों को योगी सरकार पद और …

Leave a Reply