अपराध बढ़ने पर नपे SP, नए पुलिस अधीक्षक होंगे श्रीपति मिश्रा

देवरिया लाईव ■  योगी सरकार ने शुक्रवार देर रात 25 आईपीएस अधिकारियों का तबादला कर दिया है। जिसमें देवरिया जनपद के पुलिस अधीक्षक सहित 15 जिलों के कप्तान शामिल हैं। इसके साथ ही साथ ही एसटीएफ के चार भागों में बांटकर अलग-अलग क्षेत्रों में पुलिस अधीक्षकों की तैनाती कर दी गई।

दरअसल, सरकार की मंशा एसटीएफ और जांच एजेंसी एसआइटी को और मजबूत करने की बतायी जा रही है। इसके साथ ही एसटीएफ को चार हिस्सो में बाटने की भी है। एसटीएफ में मेरठ और वाराणसी में आइपीएस अधिकारियों व एक अतिरिक्त एसएसपी की तैनाती इसके संकेत है। यहां अब तक एएसपी की तैनाती होती रही है। एसटीएफ के वाराणसी व मेरठ कार्यालयों में अब तक एएसपी की बतौर प्रभारी तैनाती होती रही है।

अपराध ना रुकने पर किरीट राठौर का तबादला

वही देवरिया जिले के पुलिस अधीक्षक किरीट राठौर चुनाव के ठीक पहले जनपद के पुलिस कप्तान बनाए गए थे। लेकिन इनके कार्यकाल में अपराध का ग्राफ कुछ ज्यादा ही बढ़ गया था। जिस कारण सरकार ने इन्हें स्थानांतरण कर उनकी जगह श्रीपति मिश्रा को नए पुलिस अधीक्षक बनाया है। श्रीपति मिश्रा इससे पहले पुलिस अधीक्षक सतर्कता अधिष्ठान के पद पर थे।

नवागत पुलिस अधीक्षक श्रीपति मिश्रा के लिए जनपद में दिन-प्रतिदिन बढ़ रहे अपराधों की संख्या पर रोक लगाना व लंबित मामलों का खुलासा न  होना बड़ी चुनौती है।

Leave a Reply