आयुष्मान कार्ड के नाम पर वसूली, पुलिस के पहुंचते ही भागे जालसाज

देवरिया लाईव ■ क्षेत्र के बरांव चौराहा स्थित एक कटरा में रविवार को आयुष्मान कार्ड का ऑनलाइन पंजीकरण किया जा रहा था। खुद को गारेखपुर के एक एनजीओ का कर्मचारी बताकर पंजीकरण कर रहे युवक पुलिस के आने की भनक लगते ही सामान समेट कर फरार हो गए। पंजीकरण के बदले आवेदकों से 300 रुपये वसूले जा रहे थे।


बरांव-बहसुआं मार्ग स्थित कटरा में बाइक सवार दो युवक नूड ऑनलाइन संस्था के जरिए रजिस्ट्रेशन कर आयुष्मान कार्ड उपलब्ध कराने का दावा कर रहे थे। दोनों युवक लैपटॉप, स्कैनर, थंब मशीन व अन्य सामान लिए हुए थे। आधार कार्ड, बैंक पासबुक, राशन कार्ड आदि की प्रति के साथ अंगूठे का निशान लिया जा रहा था। बदले में फीस के रूप में तीन सौ रुपये भी जमा कराए जा रहे रहे।

सूचना पाकर लोगों की भीड़ जुट गई। बहसुआं, कोल्हुआं, दुबौली, मोहरा, समोगर, बरांव, पटवनियां आदि गांवों के लोग वहां पहुंचे। केंद्र सरकार की निशुल्क योजना की आड़ में वसूली पर संदेह जताते हुए किसी ने पुलिस को सूचना दे दी।

इसकी भनक लगी तो दोनों युवक आनन-फानन में सामान समेट कर चंपत हो गए। इंस्पेक्टर मदनपुर विद्याधर कुशवाहा ने बताया कि मौके पर गए थे, लेकिन जालसाज जा चुके थे।

इस संबंध में उपजिलाधिकारी विनीत कुमार सिंह ने बताया कि सरकार की ओर से इस तरह की कोई व्यवस्था नहीं की गई है।

Leave a Reply