हुमा कुरैशी बोलीं- महिलाएं अब पुरुषों की मोहताज नहीं

देवरिया लाईव ■ ‘नेटफिल्क्स पर अपनी हाल ही में रिलीज हुई वेब सीरिज ‘लैला’ के लिए लोकप्रियता बटोर रहीं हुमा कुरैशी का कहना है कि महिला किरदार अब पुरुषों के मोहताज नहीं रह गए हैं। दरअसल, हुमा ने हाल ही में मीडिया से बात करते हुए कहा, ‘मुझे नहीं पता। कब तक यह सवाल पूछा जाएगा..लेकिन मेरे लिए यह बिल्कुल समृद्ध था। मुझे लगता है कि अब बहुत हो गया, कब तक चमकता हुआ कवच पहने एक योद्धा हमें बचाने के लिए आता रहेगा? कब आप अपनी जिंदगी के हीरो बनेंगे?’

बता दें कि इस सीरिज ‘लैला’ में हुमा, शालिनी का किरदार निभा रही हैं जो अपनी बेटी लैला की तलाश कर रही है। हाल ही में एक इंटरव्यू के दौरान इस सीरीज में मां का किरदार निभाने पर हुमा ने कहा, ऑन स्क्रीन मां का किरदार निभाना बहुत मुश्किल था। इतना ही नहीं, मेरा किरदार शालिनी जो अपनी बेटी को बचाने के लिए लड़ती है वो काफी मुश्किल था। शालिनी बहुत ही स्ट्रॉंग और इमोशन्स से भरा किरदार है। मुझे इस किरदार के लिए बहुत तैयारी करनी पड़ी।

‘लैला’ प्रयाग अकबर की किताब पर आधारित है। बता दें कि इस सीरीज से पहले हुमा लास्ट बॉलीवुड फिल्म दोबारा में दिखी थीं जो साल 2017 में रिलीज हुई थी। इसके बाद से वो बॉलीवुड फिल्मों से दूर हैं।

Leave a Reply