यूपी बोर्ड के 3.21 लाख छात्र केंद्र सरकार की 1000 रु प्रतिमाह स्कॉलरशिप के योग्य

देवरिया लाईव ■ यूपी बोर्ड की 2019 इंटरमीडिएट परीक्षा में 80 परसेंटाइल से पास करने वाले 321264 छात्र-छात्राएं केंद्र सरकार की ओर से स्नातक स्तर पर प्रतिमाह एक हजार रुपये की छात्रवृत्ति के पात्र हैं। हालांकि प्रदेश के 11,460 मेधावियों को ही सालाना दस हजार रुपये की छात्रवृत्ति मिलेगी।

मानव संसाधन विकास मंत्रालय (एमएचआरडी) की सेंट्रल सेक्टर स्कालरशिप के लिए ऑनलाइन आवेदन वेबसाइट www.scholarships.gov.in पर जल्द शुरू होंगे। यूपी बोर्ड ने इसके लिए विज्ञान, वाणिज्य एवं कला वर्ग का कटऑफ अपनी वेबसाइट पर अपलोड कर दिया है।

यूपी बोर्ड की 2019 इंटर परीक्षा में विज्ञान वर्ग में 333 अंक, वाणिज्य वर्ग में 314 और मानविकी वर्ग में 303 अंक प्राप्त ऐसे मेधावी छात्र-छात्राएं जो किसी भी उच्च शिक्षण संस्थान के नियमित पाठ्यक्रम में प्रवेश लेते हैं, वे यह छात्रवृत्ति पाने के योग्य होंगे। 11460 मेधावियों को विज्ञान, वाणिज्य व मानविकी वर्ग में क्रमश: 3:2:1 के अनुपात से प्रदान की जाएगी।

पूर्व के वर्षों 2016, 2017, 2018 में छात्रवृत्ति प्राप्त करने वाले छात्र-छात्राएं अपनी छात्रवृत्ति नवीनीकरण के लिए इस वेबसाइट पर ऑनलाइन आवेदन कर सकेंगे। छात्र-छात्राओं के ऑनलाइन आवेदन पत्र ही मान्य होंगे। सभी छात्र-छात्राओं को अपना आधार नंबर अपने राष्ट्रीयकृत बैंक खाता संख्या से लिंक कराना होगा।

अधिकतम पांच साल के लिए मिलेगी छात्रवृत्ति

ये छात्रवृत्ति उन्हीं छात्रों को मिलेगी जो कोई दूसरी छात्रवृत्ति योजना का लाभ नहीं ले रहे हैं। छात्रवृत्ति अधिकतम पांच साल के लिए है। स्नातक स्तर पर तीन साल तक दस-दस हजार सालाना और परास्नातक स्तर पर दो साल के लिए 20-20 हजार रुपये सालाना दिया जाएगा। प्रोफेशनल कोर्स करने वाले विद्यार्थियों को चौथे और पांचवें साल में 20-20 हजार रुपये सालाना मिलेगा। छात्र और छात्राओं के लिए 50-50 प्रतिशत का कोटा रखा गया है।

Leave a Reply